शिक्षा माफियाओं का गज़ब कारनामा

राजित राम यादव बस्ती

बस्ती। शिक्षा माफियाओं के चंगुल में फस गयी छात्रा का भविष्य, शिक्षा माफिया अपने फायदे के लिए बर्बाद कर डालें छात्रा का भविष्य, जिला अधिकारी बस्ती सौम्या अग्रवाल से की गई शिकायत जिला अधिकारी बस्ती ने दिए कड़े निर्देश कहां पूरे प्रकरण की जिला विद्यालय निरीक्षक करेंगे जांच ,
बस्ती जिले के गौर थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत संथुआ रहने वाली कक्षा 12 की छात्रा सुमैया खान शिक्षा माफियाओं के चंगुल में फस गई और शिक्षा माफियाओं ने अपने फायदे के लिए छात्रा का भविष्य बर्बाद कर डाला, सबसे बड़ा सवाल दोषियों के खिलाफ कब कार्रवाई होगी और इस छात्रा को कैसे न्याय मिलेगा, क्या इन शिक्षा माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई होगी ,यह सवाल उठ रहा है,

हम बताते चलें बस्ती जिले के सुमैया खान ,श्यामसुंदर बद्री प्रसाद कन्या इंटर कॉलेज बभनान बस्ती से हाई स्कूल की परीक्षा 2020में पास की उसके बाद
हाईस्कूल की परीक्षा पास करने के बाद सुमैया खान श्यामसुंदर बद्री प्रसाद कन्या इंटर कॉलेज से अपना नाम कटवा कर टीसी प्रमाण पत्र लेकर
वह गोंडा जिले में स्वर्गीय राम अवतार सिंह इंटर कॉलेज में अपना एडमिशन ले ली ,और पढ़ाई करने लगी, जब इंटर की परीक्षा का डेट घोषित हुआ और छात्रों को प्रवेश पत्र मिलने लगा , तो जब छात्रा सुमैया खान जिस स्कूल में पढ़ रही थी प्रवेश पत्र लेने पहुंची तो पता चला आपका नाम दो-दो स्कूलों में लिखा गया है, और दो जगह से आप पढ़ाई कर रहे हैं, इसलिए आपका प्रवेश पत्र रोक दिया गया है, क्योंकि आधार कार्ड दोनों जगह एक ही लगा, इसके बाद सुमैया खान छात्रा अपने परिवार वालों को बताएं जब परिवार वालों ने पता चला तो होश उड़ गए कि मेरे बच्ची का भविष्य बर्बाद हो गया है वही परिजन और छात्रा श्यामसुंदर बद्री प्रसाद कन्या इंटर कॉलेज बभनान बस्ती के प्रधानाध्यापक से मिले और बताएं जब मेरा नाम यहां से कट गया और आपने टीसी प्रमाण पत्र दे दिया गया था,दूसरे जगह नाम लिखवा इसके बावजूद भी मेरा नाम आप लोग 2 साल तक अपने स्कूल में क्यों नाम डाले रहे और मेरा नाम क्यों नहीं आप काटे और कैसे बिना मेरे स्कूल आए आप लोग मेरा बोर्ड फार्म भर दिए, इस बात को लेकर प्रधानाध्यापक श्याम सुंदर बद्री प्रसाद कन्या इंटर कॉलेज के छात्रा के परिजनों पर भड़क उठे और कहे जो एक बार इस स्कूल में अपना नाम लिखा लेता है जब तक यहां से पूरी पढ़ाई नहीं कर लेगा यहां से किसी का नाम नहीं काटा जाता है आप लोगों को जो करना हो कर लीजिए सत्ता और शासन में पकड़ मजबूत है ,हम चाहे जो करें । जहां मन कहे प्रार्थना पत्र दीजिए जिस अधिकारी को मेरे खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होगी

वही जिला अधिकारी बस्ती सौम्या अग्रवाल ने मामले को संज्ञान में लेकर कड़ी कार्रवाई के निर्देश जारी किया साथ ही जिला विद्यालय निरीक्षक बस्ती को पत्र लिखकर कार्रवाई का निर्देश दिया गया है