स्कूल चलो अभियान के चक्कर मे शिक्षक गया जेल

रिपोर्ट – अरविन्द शर्मा । कानपुर देहात ।

गुरुर ब्रम्हा गुरुर विष्णु गुरुर देवः महेश्वरा कहते है कि संसार मे गुरु का महत्व सबसे बड़ा होता है गुरु से बढ़कर कोई नही है लेकिन आज कानपुर देहात में गुरु के साथ जो घटना हुई उसने गुरु और शिष्य के रिश्ते को तार तार कर दिया । सरकार स्कूल चलो अभियान चला रही है जिससे बच्चे अधिक की संख्या में स्कूल में आये और शिक्षा ग्रहण कर आगे चलकर कुछ बन सके । लेकिन कानपुर देहात में स्कूल चलो अभियान को लेकर शिक्षा की अलख जगाने वाले एक शिक्षक को ऐसा करना मंहगा पड़ गया । बच्चो को घर घर जाकर स्कूल आने के लिये कहने वाले शिक्षक को इसकी कीमत जेल जाकर चुकानी पड़ी । स्कूल के लिये घर जाकर बुलाने वाले शिक्षक के खिलाफ स्कूल में पढ़ने वाली कक्षा 7 की छात्रा के परिजनों ने झूठा छेड़खानी और पास्को एक्ट का मुकदमा लिखाकर शिक्षक को जेल भिजवा दिया ।

दरअसल मूसानगर थाना क्षेत्र के एक गांव में पूर्व माध्यमिक विद्यालय में सहायक अध्यापक पद पर तैनात शिक्षक राजेन्द्र गुप्ता स्कूल चलो अभियान के तहत अपने स्कूल में बच्चो की संख्या बढ़ाने के लिये घर घर जाकर अभिवावकों से बच्चो को स्कूल भेजने का निवेदन कर रहे थे उसी गांव की एक बच्ची जो कई दिनों से स्कूल नही आ रही थी उसके भी घर पहुंचे और स्कूल प्रतिदिन न आने के लिये कहा । स्कूल में सभी बच्चे पहुंचे तो शिक्षक ने छात्रा को डांटते हुए डेली स्कूल आने को कहा तो शिक्षक की डांट से नाराज हुई छात्रा ने घर पहुंचकर परिजनों को बताई जिसके बाद परिजनों ने 112 डायल करते हुए शिक्षक पर झूठी छेड़खानी की शिकायत दर्ज कराई मौके पर पहुंची डायल 112 पुलिस ने शिक्षक को पकड़कर थाने ले गयी । जिसके बाद पीछे से छात्रा सहित परिजन पहुंचे और मूसानगर थाने में झूठा छेड़खानी और पास्को एक्ट का मुकदमा दर्ज करा दिया । जबकि उस समय स्कूल में सारा स्टाफ मौजूद था सभी बच्चे स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर रहे थे । शिक्षक को गिरफ्तार करने की सूचना पर स्कूल के हेडमास्टर गांव के प्रधान सहित स्कूल के बच्चे परिजनों के साथ पहुंचे और सभी ने मूसानगर पुलिस को बताया कि शिक्षक राजेन्द्र गुप्ता ने ऐसी कोई घटना नही की है ये फर्जी आरोप लगाए जा रहे है। लेकिन पुलिस ने किसी की एक नही सुनी और शिक्षक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया । शिक्षक राजेन्द्र गुप्ता को झूठे मुकदमे में जेल भेजने पर कानपुर देहात शिक्षक संघ आक्रोशित हो गया और सैकड़ो की संख्या में पहुंचे शिक्षकों ने जिला मुख्यालय पहुंच जनपद के जिलाधिकारी और एसपी से मुलाकात कर शिक्षक को झूठे मुकदमे में फंसाकर जेल भेजने की शिकायत की। वही स्कूल में हेड मास्टर मनोज मिश्रा ने बताया कि छात्रा कई दिनों से स्कूल नही आ रही थी । शिक्षक छात्रा के घर स्कूल आने के लिये कहने गये थे स्कूल में ऐसा कुछ भी नही हुआ है शिक्षक को साजिशन झूठा मुकदमा दर्ज कराया गया है ।

वही शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष अशोक सिंह राजावत ने बताया कि बिना जांच कराए शिक्षक के खिलाफ झूठा मुकदमा लिखाकर जेल भेज दिया है इसका शिक्षक संघ विरोध करता है। अधिकारियों से मिलकर मांग की गई है कि निर्दोष शिक्षक को न्याय दिलाया जाए । शिक्षक को जब तक न्याय नही मिलता शिक्षक संघ इसका विरोध करता रहेगा।

वही एसपी स्वप्निल ममगई ने मामले की जांच अपर पुलिस अधीक्षक को सौंप 2 दिन में रिपोर्ट मांगी है। निर्दोष पाए जाने पर शिक्षक के साथ न्याय होगा।