बस्ती-: तहसील संपूर्ण समाधान में उमड़ा जनसैलाब

राजित राम यादव बस्ती

बस्ती जिले के हर्रैया तहसील संपूर्ण समाधान दिवस पर जन समस्याओं को लेकर जनता का उमड़ा जनसैलाब, अधिकारियों से मिलने के लिए लगी जनता की लंबी लाइन, जिला अधिकारी बस्ती सौम्या अग्रवाल ने कहा कि, हर्रैया तहसील बड़ी है, इसीलिए भीड़ लगी है, सब की समस्याएं सुनी जाएगी और तत्काल कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया जाएगा, जिससे समस्याओं का निदान हो सके,

आज बस्ती जिले के हर्रैया तहसील पर संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया था, इस आयोजन में जनता अपनी समस्याओं को लेकर , आए थे संपूर्ण समाधान में लगभग 70% से अधिक मामले जमीनी विवाद के ही पाए गए कहीं ना कहीं छोटे अधिकारियों की लापरवाही से जमीन विवाद की समस्याएं हल नहीं हो रहे हैं ,जनता पूरी तरह परेशान है, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लाख दावा कर रहे हैं और जनता की जमीन संबंधी समस्याओं को निदान करने के लिए नए-नए तरीके अपनाए जा रहे हैं मुख्यमंत्री के निर्देश पर ही जमीनी समस्याओं का निदान कराने के लिए संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया जाता है इस आयोजन में लेखपाल से लेकर उच्च अधिकारी तक राजस्व विभाग के रहते हैं साथ ही जरूरत पड़े तो पुलिस बल भी मौके पर मौजूद रहता है जिससे सुरक्षा के लिए पुलिस बल की टीम भी साथ में जमीन संबंधी विवादों को निपटाने के लिए ले जाते हैं।

बस्ती जिले के हर्रैया तहसील में जन समस्याओं का निदान ना होने के कारण जनता पूरी तरह परेशान हैं ,कहीं ना कहीं छोटे अधिकारी जन सुनवाई के दौरान जनता की जन समस्याओं का निदान नहीं कर रहे हैं, जिससे आज संपूर्ण समाधान दिवस पर इतनी भीड़ लगी ,इस भीड़ को देखने के बाद यह लग रहा था कि पूरे जिले के जनता आज हर्रैया तहसील में संपूर्ण समाधान दिवस पर पहुंच गई

फिर हाल वही संपूर्ण समाधान दिवस पर हर्रैया तहसील में जिला अधिकारी सौम्या अग्रवाल सहित पुलिस अधीक्षक बस्ती संपूर्ण समाधान दिवस में जनता से सुनी समस्या और तत्काल निदान करने का निर्देश दिया।

वहीं जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल से पूछा गया, की संपूर्ण समाधान दिवस में इतनी भीड़ लगी है इतनी लंबी लाइन लगी है कहीं ना कहीं उनकी समस्याएं सुनी नहीं जा रही है छोटे अधिकारियों द्वारा तो उन्होंने बताया कि हर्रैया ज्वाइंट मजिस्ट्रेट द्वारा प्रतिदिन जन सुनवाई की जा रही है और जनता की समस्याएं सुनी जा रही है जनता की समस्याओं का निदान भी हो रहा है,

संपूर्ण समाधान दिवस पर पहुंची समस्याओं को लेकर पीड़ित ने बताया कि हम लोगों दौड़ते दौड़ते परेशान हो जा रहे हैं थाने से लेकर तहसील साथ ही जिलाधिकारी कार्यालय लेकिन हम लोगों को कहीं न्याय नहीं मिल पा रहा है, परेशान हैं पीड़िता सुदामा ने बताया कि बांसगांव के लेखपाल आय बनवाने के नाम पर मुझसे ₹10000 मांगे थे ₹5000 दिए लेकिन इसके बावजूद भी मेरा रिपोर्ट नहीं लगा रहे हैं मैं दौड़ रही हूं।