Test Ad
सेवा नियमों को दरकिनार कर अवर अभियंता एवं प्रोनत्त अभियंताओं के विरुद्ध किए गए प्रतिगामी आदेशों एवं उत्प्रीरणात्मक कारवाहियों को तत्काल निरस्त किए जाने की मांग।

सेवा नियमों को दरकिनार कर अवर अभियंता एवं प्रोनत्त अभियंताओं के विरुद्ध किए गए प्रतिगामी आदेशों एवं उत्प्रीरणात्मक कारवाहियों को तत्काल निरस्त किए जाने की मांग।

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

वाराणसी। राज्य विद्युत परिषद जूनियर संगठन उत्तर प्रदेश द्वारा उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन लिमिटेड द्वारा दिनांक 7 एवं 8 जुलाई को जारी किए गए ए0सी0पी निर्धारण व्यवस्था एवं सहायक अभियंताओं की वरिष्ठता निर्धारण का आदेश पूर्व के विद्यमान सेवा नियमों के विपरीत एवं प्रोनत्त अभियंताओं के साथ जान बूझकर अन्याय किया जाना है।उसके साथ ही संगठन के पदाधिकारियों/अभियंताओं का बड़े पैमाने पर उत्प्रीरण की कार्रवाई की जा रही है।

उपरोक्त प्रतिगामी आदेशों के दृष्टिगत राज विद्युत परिषद जूनियर संगठन उत्तर प्रदेश से आए पदाधिकारी/सदस्यों द्वारा शक्ति भवन मुख्यालय प्रांगण में विरोध प्रदर्शन एवम ज्ञापन देकर अपनी न्यायोचित मांगों पर प्रबंधन का ध्यान आकृष्ट कराया गया।

ज्ञापन के प्रमुख बिंदु निम्नवत है:–

 उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन द्वारा विद्वान कार्मिक सेवा शर्तों एवं सेवा नियमावली से इतर वेतन कटौती हेतु किए गए ए0सी0पी निर्धारण के  दिनांक 7/07/2022 के आदेश को तत्काल निरस्त किया जाए।

# *उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत अभियंता सेवा नियमावली 1970 तथा कार्मिक जेष्ठता निर्धारण नियमावली 1998 में विद्वान व्यवस्था के विपरीत दिनांक 8/07/2022 को जारी सहायक अभियंता पारस्परिक वरिष्ठता सूची को तत्काल निरस्त किया जाए।* 


# *अवर अभियंता संवर्ग के वेतन दीर्घा में विद्यमान नॉनफंक्शनल ग्रेड वेतन रू 4800 के विलोपन का आदेश जारी किया जाए।* 


उत्तर प्रदेश पावर ट्रांसमिशन लिमिटेड में 220 केवी,400 केवी एवं 765 केवी विद्युत उपकेंद्र का आउटसोर्सिंग किए जाने का निदेशक मंडल से लिया गया निर्णय तत्काल समाप्त किया जाए।

इस अवसर पर आयोजित सभा को संबोधित करते हुए संगठन के केंद्रीय अध्यक्ष इंजीनियर जीबी पटेल* ने कहा कि शीर्ष ऊर्जा प्रबंधन लगातार अवर अभियंता संवर्ग के विरुद्ध प्रतिगामी आदेश जारी करता जा रहा है जिससे इस संवर्ग में जो कि सदैव कार्य करने में विश्वास करता है में अविश्वास का वातावरण बनता जा रहा है* ,जिस कारण सदस्यों में व्यापक रोष एवं आक्रोश व्याप्त है। संगठन के केंद्रीय महासचिव इं जयप्रकाश उत्तर प्रदेश सरकार ,शासन एवं शीर्ष ऊर्जा प्रबंधन से पुनः मांग की ,कि संवर्ग के लिए ज्वलंत गंभीर मुद्दों पर तत्काल निर्णय लेकर न्याय परख कार्यवाही किया जाए। *हमारे न्यायोचित मांगों एवं समस्याओं का समाधान नहीं किया गया तो संगठन बाध्य होकर किसी भी आंदोलन पर जाने को विवश होगा।* जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी कारपोरेशन निगम प्रशासन की होगी।

शक्ति भवन प्रांगण में आयोजित ज्ञापन प्रेषण कार्यक्रम में पूरे प्रदेश स्वप्रेरणा ले कर  समस्त अंचलों/निगमों एवं क्षेत्रों के पदाधिकारियों के साथ-साथ लखनऊ में कार्यरत भारी संख्या में अवर अभियंता एवं प्रोन्नत अभियंता साथियों ने प्रतिभाग किया।

जिनमें प्रमुख रूप से इं संजीव वर्मा, इं अनिल वर्मा, इं,अनूप वर्मा,इं प्रकाश सिंह, इं रतनदीप मौर्या,इं अजय कुमार, इं देवेंद्र सिंह, ई देवेंद्र कुमार, इं अरविंद निगम, ई अरविंद बिंद,  इं नवीन चावला,इं सचिन राज, इं आर जी सिंह,ई हरिशंकर चौधरी ई वरिंदर शर्मा, ई दीपक शर्मा इं,दिनेश प्रजापति, ई संजीव प्रभाकर ई इंद्रेश चौधरी, ई पंकज कुशवाहा एवम भारी संख्या में अवर/प्रोन्नत अभियंता उपस्थित रहे।

admin
Share: | | | 261
Comments
Leave a comment

Advertisement

Test Sidebar Ad
Search

क्या है तहकीकात डिजिटल मीडिया

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।

Videos

Get In Touch

Call Us:
9454014312

Email ID:
tahkikatnews.in@gmail.com

Follow Us
Follow Us on Twitter
Follow Us on Facebook

© Tehkikaat News 2017. All Rights Reserved. Tehkikaat Digital Media Pvt. Ltd. Designed By: LNL Soft Pvt. LTD.