Test Ad
पत्रकार पर दर्ज केस वापस लेने की मांग, सौंपा ज्ञापन

पत्रकार पर दर्ज केस वापस लेने की मांग, सौंपा ज्ञापन

रिपोर्ट -: राकेश सिंह गोंडा 

गोण्डा। पत्रकार उत्पीड़न की घटनाओं जिसमे  जिले के नवाबगंज के पत्रकार पर प्रधान प्रतिनिधि द्वारा दर्ज कराई गई केस को लेकर शुक्रवार को एन यू जे इंडिया से संबद्ध यूपी जर्नलिस्ट्स एसोसियेशन उपजा का एक प्रतिनिधिमंडल देवीपाटन मंडल के अपर आयुक्त से मिला। प्रतिनिधि मंडल ने उन्हे राज्यपाल को संबोधित एक पांच सूत्रीय मांग पत्र भी सौंपा जिसमें नवाबगंज क्षेत्र के  कटरा भोग चन्द के प्रधान  द्वारा कराए गए मानक विहीन कार्यों  का खुलासा करने एवम नवाबगंज के पत्रकार  मौजी राम यादव पर प्रधान प्रतिनिधि द्वारा दर्ज कराये गये मामले को  दुर्भावना से ग्रसित होने के कारण उसे वापस लेने की मांग की। 


प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे उपजा के प्रदेश अध्यक्ष जी0 सी0 श्रीवास्तव एवं पार्षद  राकेश सिंह ने कहा कि पत्रकार सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में जिम्मेदार कर्मियों की कमियों को उजागर करते हैं। इसी वजह से उन्हें अक्सर परेशान करने के लिए साजिश के तहत उल्टे सीधे केस दर्ज करा दिये जाते है जिसके कारण ही उनकी कमियों को उजागर करने वाले पत्रकारो को कोपभाजन का शिकार बनना पड़ता है। जनपद में घटित घटना जंहा पुलिसिया शिथ्िलता की कहानी बंया कर रही वही  पत्रकार को जान से मार डालने की धमकी व पत्रकार उत्पीड़न करने वाला खुलेआम घूम रहा । यही नहीं पीड़ित पत्रकार के परिवारों पर भी केस दर्ज करने वाला कोतवाल मजे से मलाई काट रहा। संध के नेता द्वय ने कोतवाल को हटाकर न्याय दिलाने की मांग की है। वहीं जिले के लगभग चार दर्जन से अधिक पत्रकारों ने अपर पुलिस अधीक्षक शिवराज से मिलकर वस्तुस्थित से अवगत कराते हुए आरोपी प्रधान प्रतिनिधि को अविलंब गिरफतार करने की मांग की । संघ के तेज तर्रार जिलाअध्यक्ष रईस अहमद ने कहा कि पत्रकारों का उत्पीड़न किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा पत्रकारों की लड़ाई लड़ने के लिए संगठन वचनबद्ध है अनावश्यक किसी पत्रकार का उत्पीड़न ना हो जांच कर उचित कार्रवाई न की गई तो उपजा आंदोलन करने के लिए बाद होगी महामंत्री जगपाल सिंह ने कहा कि पत्रकारों के हित में पूरी उपजा एक साथ खड़ी है जरूरत पड़ने पर आंदोलन भी किया 

हांलाकि उपनिरीक्षक ने मामले की जांच कर तीन दिन में उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है। ज्ञापन देने गये दर्जनो पत्रकारों ने आक्रोश व्यक्त करते हुए पत्रकार पर दर्ज प्राथमिकी तत्काल वापस लेने की मांग की है। प्रतिनिधिमंडल में पत्रकार अतुल श्रीवास्तव, प्रमोद नन्दन किशन राजपाल,  मुश्ताक अहमद, मनोज साहू शैलेन्द्र कौशल वेलसन श्रीवास्तव जिताउ राम मौर्य,    हरीश तिवारी  आदि शामिल थे।पत्रकार पर दर्ज केस वापस लेने की मांग, सौंपा ज्ञापन

गोण्डा। पत्रकार उत्पीड़न की घटनाओं जिसमे  जिले के नवाबगंज के पत्रकार पर प्रधान प्रतिनिधि द्वारा दर्ज कराई गई केस को लेकर शुक्रवार को एन यू जे इंडिया से संबद्ध यूपी जर्नलिस्ट्स एसोसियेशन उपजा का एक प्रतिनिधिमंडल देवीपाटन मंडल के अपर आयुक्त से मिला। प्रतिनिधि मंडल ने उन्हे राज्यपाल को संबोधित एक पांच सूत्रीय मांग पत्र भी सौंपा जिसमें नवाबगंज क्षेत्र के  कटरा भोग चन्द के प्रधान  द्वारा कराए गए मानक विहीन कार्यों  का खुलासा करने एवम नवाबगंज के पत्रकार  मौजी राम यादव पर प्रधान प्रतिनिधि द्वारा दर्ज कराये गये मामले को  दुर्भावना से ग्रसित होने के कारण उसे वापस लेने की मांग की। 


प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे उपजा के प्रदेश अध्यक्ष जी0 सी0 श्रीवास्तव एवं पार्षद  राकेश सिंह ने कहा कि पत्रकार सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में जिम्मेदार कर्मियों की कमियों को उजागर करते हैं। इसी वजह से उन्हें अक्सर परेशान करने के लिए साजिश के तहत उल्टे सीधे केस दर्ज करा दिया जाता है जिसके कारण ही उनकी कमियों को उजागर करने वाले पत्रकारो को कोपभाजन का शिकार बनना पड़ता है। सोनभद्र में घटित घटना जंहा पुलिसिया शिथ्िलता की कहानी बंया कर रही वही गोण्डा जिले में पत्रकार को जान से मार डालने की धमकी व पत्रकार उत्पीड़न करने वाला खुलेआम घूम रहा । यही नहीं पीड़ित पत्रकार के परिवारों पर भी केश दर्ज करने वाला कोतवाल मजे से मलाई काट रहा। संध के नेता द्वय ने कोतवाल को हटाकर न्याय दिलाने की मांग की है। वहीं जिले के लगभग चार दर्जन से अधिक पत्रकारों ने अपर पुलिस अधीक्षक शिवराज से मिलकर वस्तुस्थित से अवगत कराते हुए आरोपी प्रधान प्रतिनिधि को अविलंब गिरफतार करने की मांग की । संघ के अध्यक्ष रईस अहमद एवं जगपाल सिंह ने उपपुलिस महानिरीक्षक से अविलंब कार्ररवाई किये जाने की मांग करते हुए साफ लहजे में कहा कि यदि लीपापोती की गई तो उपजा बड़ा आंदोलन करने को बाध्य होगी।

हांलाकि उपनिरीक्षक ने मामले की जांच कर तीन दिन में उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है। ज्ञापन देने गये दर्जनो पत्रकारों ने आक्रोश व्यक्त करते हुए पत्रकार पर दर्ज प्राथमिकी तत्काल वापस लेने की मांग की है। प्रतिनिधिमंडल में पत्रकार संजय प्रजापति, अतुल श्रीवास्तव, प्रमोद नन्दन किशन राजपाल,  मुश्ताक अहमद, मनोज साहू शैलेन्द्र कौशल श्रीवास्तव जिताउ राम मौर्य,सरवन कुमार दिवाकर व्रिक्रम सिंह लौकुस   अर्जुन तिवारी अशोक यादव रियाजुद्दीन हरीश मिश्रा ध्रुव मिश्रा विजय शुक्ला आदि सामिल थे

admin
Share: | | | 80
Comments
Leave a comment

Advertisement

Test Sidebar Ad
Search

क्या है तहकीकात डिजिटल मीडिया

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।

Videos

Get In Touch

Call Us:
9454014312

Email ID:
tahkikatnews.in@gmail.com

Follow Us
Follow Us on Twitter
Follow Us on Facebook

© Tehkikaat News 2017. All Rights Reserved. Tehkikaat Digital Media Pvt. Ltd. Designed By: LNL Soft Pvt. LTD.