Test Ad
जानिए होलाष्टक क्यों है अशुभ

जानिए होलाष्टक क्यों है अशुभ

उपेन्द्र कुमार पांडेय


आजमगढ़::भारतीय सनातन धर्म में होली से पूर्व के 8 दिन अशुभ माने गए हैं, क्योंकि इस दौरान होलाष्टक होते हैं. होलाष्टक में सारे ग्रह अशुभ हो जाते हैं

नारायण ज्योतिष परामर्श एवं अनुसंधान केंद्र फूलपुर प्रयागराज के ज्योतिषाचार्य पं ऋषिकेश शुक्ल ने बताया की देशभर में होलिका दहन फाल्गुन मास की पूर्णिमा को किया जाता है, लेकिन इससे आठ दिन पहले यानी फाल्गुन अष्टमी से होलाष्टक लग जाते हैं. होलाष्टक को अशुभ माना गया है, यही वजह है कि होलाष्टक में 16 संस्कार समेत कोई भी शुभ कार्य करना वर्जित होता है.

इस वर्ष होलाष्टक 17 मार्च 2024 से 24 मार्च2027 तक रहेंगे. धार्मिक मान्यता है कि होलाष्टक में वरदान भी बेकार साबित हो जाते हैं.

आखिर क्यों होलाष्टक के 8 दिन होते हैं अशुभ, किस दिन कौन सा ग्रह डालता है अशुभ प्रभाव जानें

 धर्म शास्त्र तथा ज्योतिष शास्त्र के अनुसार होलाष्टक के समय सभी 8 ग्रहों का स्वभाव उग्र हो जाता है. ऐसे में शुभ कार्यों के लिए ग्रहों की ये स्थिति अच्छी नहीं मानी जाती है. इस दौरान मांगलिक कार्य करना या किसी नए काम की शुरुआत करने से उसमें सफलता नहीं मिलती,तमाम तरह की रुकावटें आती हैं ग्रहों के निर्बल होने से मनुष्य की निर्णय क्षमता क्षीण हो जाती है. इस कारण मानव समाज अपने स्वभाव के विपरीत फैसले कर लेता है जीवन में बीमारी, क्लेश और यहां तक की अकाल मृत्यु का साया भी मंडराने लगता है.

होलाष्टक क्यों है अशुभ

पौराणिक कथा के अनुसार होली से आठ दिन पूर्व हिरण्यकश्यप ने बेटे प्रहलाद की विष्णु जी की भक्ति को भंग करने के लिए कई तरह से प्रताड़ित किया था. होलाष्टक ये 8 दिन यातनाओं के दिन माने जाते हैं. होलाष्टक में ग्रह भी अशुभ प्रभाव डालते हैं, यही कारण है कि होलाष्टक में विवाह, मुंडन, गृह प्रवेश, कोई  भी नया कार्य मांगलिक कार्य हवन या नया निवेश भी नहीं करना चाहिए. इसके परिणाम अशुभ होते हैं.


ज्योतिषाचार्य पंडित ऋषिकेश शुक्ला -70 1748 66 39

जानिए होलाष्टक क्यों है अशुभ
Admin
Share: | | |
Comments
Leave a comment

Advertisement

Test Sidebar Ad
Search

Recent News

क्या है तहकीकात डिजिटल मीडिया

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।

Videos

Get In Touch

Call Us:
9454014312

Email ID:
tahkikatnews.in@gmail.com

Follow Us
Follow Us on Twitter
Follow Us on Facebook

© Tehkikaat News 2017. All Rights Reserved. Tehkikaat Digital Media Pvt. Ltd. Designed By: LNL Soft Pvt. LTD.