Test Ad
श्री राधा छठी महा महोत्सव का दो दिवसीय समारोह संपन्न

श्री राधा छठी महा महोत्सव का दो दिवसीय समारोह संपन्न


कैलाश सिंह विकास रिपोर्ट आंनद कुमार सिंह

वाराणसी!,महमूरगंज स्थित माहेश्वरी भवन के परिसर में हरे कृष्ण हरे राम संकीर्तन सोसायटी द्वारा आयोजित श्री राधाछठी महा महोत्सव के दो दिवसीय समारोह में प्रथम दिन युगल रचित प्रभु एवं पुलकित प्रभु द्वारा हरे कृष्ण महामंत्र के गायन के साथ प्रारंभ हुआ। श्री श्री राधा गोविंद देव के श्री विग्रहों तथा श्री श्री जगन्नाथ बलदेव, सुभद्रा महारानी जी के विग्रहों का मनोहारी श्रृंगार किया गया, जो भक्तजनों को मोहित कर रहा था। वैष्णव परंपरा के मंगलाचरण के पश्चात श्री तुलसी महारानी की आरती मातृशक्तिरजनी माताजी,प्रियंका माताजी, प्रीति माताजी एवं गायन अर्चन अनिता माताजी द्वारा किया गया।

श्री राधा कृष्ण के मिश्रित अवतार महावदान्याय श्री चैतन्य महाप्रभु जीटी आरती और हरे कृष्ण महामंत्र के भावपूर्ण गायन के साथ भक्तजन भावविभोर हो

आंनद का अनुभव करते हुए भावपूर्ण नृत्य कर रहें थे। हरिनाम की महत्ता तथा श्री मद भागवत गीता प्रवचन करते हुए वृंदावन निवासी श्री नित्यानंद प्रभु जी ने बताया कि सनातन परंपरा के चारों वेदों में जन्म-मृत्यु के भवसागर से पार होने का सर्वश्रेष्ठ उपाय हरे कृष्ण महामंत्र ही है, तथा यह धर्म-अर्थ-काम-मोक्ष देने वाला है और यह सभी के लिए आराधनीय और सेवनीय हैं, तथा परम ईश्वर श्री कृष्ण अपने नाम रूप मूलमंत्र के द्वारा सबको आनन्द प्रदान करते हैं।

परमेश्वर कृष्ण द्वारा अर्जुन को दिये उपदेश ज्ञान को संदर्भित करते उन्होंने बताया कि भक्ति में थोड़ा भी किया गया प्रयास शाश्वत रहता है उसकी कभी क्षति

नहीं होती है। श्री श्री राधा कृष्ण की स्तुति भजनों की श्रृंखला में श्री गुलाब पभु,श्री राघवेन्द्र प्रभु, तथा गोपी प्रभु जी के गायन पर माहेश्वरी भवन में उपस्थित भक्तजन भावविभोर हो तुम उठें।

बाल कलाकारों द्वारा नाट्यलीला तथा नृत्यलीला में रीना, खुशी, स्नेहा,पलक,प्रिया,दिव्या,देवांश,विनायक की अद्भुत प्रस्तुति ने सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।

महा महोत्सव के दुसरे दिन मातृशक्ति सम्मान तथा परमेश्वर श्री कृष्ण के गौवें,गोपी,पर्यावरण, जल के संरक्षण के लिए की् गई सेवा तथा जनमानस में  गाय,गोपी,जल,वृक्ष की रक्षा के लिए किते गये कार्यो का अनुकरण करने के संकल्प के साथ शुभारंभ हुआ।श्री राधा गोविंद देव के विग्रहों तथा श्री जगन्नाथ, बलदेव,शुभदरा महारानी जी के विग्रहों का आकर्षक श्रृंगार किया गया।

प्रियंका माता,रजनी माता एव  संजय प्रभु द्वारा संकीर्तन से माहौ भक्तिमय हो गया। प्रवचन करते हुए श्री नित्यानंद प्रभु ने बताया कि सनातन धर्म में गाय, पृथ्वी,माता, सूर्य,जल के संरक्षण की चर्चा हमारे शास्त्रों में कूट-कूट कर भरी हुई है। भगवान कृष्ण के यश का श्रवण तथा कीर्तन हमें पवित्र करते हैं।नाटय लीला तथा नृत्यलीला में स्कूली छात्राओं ने अद्भुत प्रदर्शन किया।विशेष प्रस्तुति सौम्या,पलक, अनन्या,आस्था जान्हवी,ने की। कार्तिकेय प्रभू द्वारा नृसिंगदेव वंदना प्रस्तुत किए। श्री राधा गोविंद देव भगवान की सेवा में छप्पन भोग में एक सौ आठ प्रकार के भोज्य सामग्री अर्पित की गई।साथ ही जनमानस के लिए विशाल भंडारे का आयोजन किया जिसमें  भक्तजन ने प्रसाद ग्रहण किया।समारोह में सोसायटी परिवार के पदाधिकारियों द्वारा कलाकारों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया!

समारोह में गोपी प्रभु,गुलाब प्रभु, राघवेंद्र प्रभु, संजय प्रभु, मुकेश प्रभु,दीन दयाल प्रभु,,अशोक प्रभु,मोहन प्रभु,राजु रंगोली अन्य लोग उपस्थित थे।

admin
Share: | | | 112
Comments
Leave a comment

Advertisement

Test Sidebar Ad
Search

क्या है तहकीकात डिजिटल मीडिया

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।

Videos

Get In Touch

Call Us:
9454014312

Email ID:
tahkikatnews.in@gmail.com

Follow Us
Follow Us on Twitter
Follow Us on Facebook

© Tehkikaat News 2017. All Rights Reserved. Tehkikaat Digital Media Pvt. Ltd. Designed By: LNL Soft Pvt. LTD.